Tu Pyaar Na Kar | Mid Night Diary | Divyanshu Kashyap TEJAS

तू प्यार न कर | दिव्यांशू कश्यप ‘तेजस’

तू मेरी जान मुझको इतना प्यार न कर,
नयनों के अनुबंधो से मुझ पर अधिकार न कर

गिरा के बिजलियॉ हुस्न की मुझ पर ये अपनी
तू सुकून ए दिल को मेरे गिरफ्तार न कर,

बंजर ही रहने दे मेरे जिस्म-ए-शबाब को
तू मुस्कुरा के इसको समनज़ार न कर,

सींच कर अपनी इन शोख़ सी अदाओं से
इस कच्ची कली को अभी गुलनार न कर

बोल दे जुबां से जो इन ऑखो में भर रखा है
मेरे कहने का ही अब तू इंतजार न कर,

किया था आज मिलने का जो तुमने वादा
यूॅ पलट के ये मुलाकात भी तू उधार न कर,

दूर हो जायेगी दुनिया मेरी इक दिन मुझसे
ये बता बता के तू मुझको सोगवार न कर

दर्द बहुत है तेजस को तेरे जाने के बाद जिंदगी में
दुआ तू भी मेरी लम्बी उम्र की अब बार बार न कर।

 

 

-दिव्यांशू कश्यप ‘तेजस’

 

Divyanshu Kashyap TEJAS
Divyanshu Kashyap TEJAS

121total visits,1visits today

Leave a Reply