Tag: Vinay Sahu

Short Stories

Indu

ऑटो के चलने के आवाज और आस पास के ट्रैफिक के शोर-शराबे के बीच वो ऑटो में चढ़ी, करीब 3 बरस बाद मैंने उसे देखा था। वही चेहरा था पर अब वो चमक नहीं थी,Continue reading