Tag: #UnlockTheEmotion

Hello everyone,
Wishing you a great new year!

Do you love to weave stories? Do you relish taking your characters through a new experience every time? Do you believe in the magic of connecting through storytelling?
Then why limit the reach of your stories to just a piece of paper or a diary in a closet. Your story might win a fee hearts and for you win a few awesome prizes.

If you have a story/poetry/poem/ghazal/atukant, this is the right place for you.

Mid Night Diary brings to you “Writing Competition 2018 #UnlockTheEmotion”.

Below mentioned are the rules:

1. The story/poetry/poem/ghazal/atukant can either be in Hindi or English.
2. Only two entries(unpublished content ) from one person would be accepted.
3. Story on any theme is acceptable.
4. There is no word limit.
5. The story should not hurt anyone’s sentiments.

You need to mail the story/poetry/poem/gazhal/atukant to the below ids with your photograph diary.midnight01@gmail.com & submit@midnightdiary.in

Poetry

ज़िन्दगी | मोहित चौहान | #अनलॉकदइमोशन

कैसी है ये ज़िन्दगी कभी अनजानों को पास लाती है, तो कभी अपनो को दूर ले जाती है, कभी खुशियों की बरसात तो कभी ग़मो का सेलाब लाती है ना जाने, कैसे कैसे रंग दिखातीContinue reading

Maa | Mid Night Diary | Mohit Chauhan | #UnlockTheEmotion
Poetry

माँ | मोहित चौहान | #अनलॉकदइमोशन

बस यही एक नाम याद आता है मुझे हर मुसीबत में कितना सुकून मिलता है जब आराम करता हूँ तेरी गोद में, सही क्या है, गलत क्या है, ये तूने ही तो बताया है, तूContinue reading

Tumko Pyaar Karungi | Mid Night Diary | Amita Gautam | #UnlockTheEmotion
Poetry

तुमको प्यार करुँगी | अमिता गौतम | #अनलॉकदइमोशन

तेरा चैन लूटूँगी तुझको बेकरार करुँगी, जब तक तुम तबाह नहीं हो जाते, तब तक तुमको प्यार करुँगी, टकरार करुँगी तुमसे मैं, और शक तुम पर बेशुमार करुँगी, अपनी मोहब्बत का वास्ता दे दे कर, तेरेContinue reading

Wo Cigarette | Mid Night Diary | Musafir Tanzeem | #UnlockTheEmotion
Poetry

वो सिगरेट | मुसाफिर तन्ज़ीम | #अनलॉकदइमोशन

एक सैलाब तलब का एक ग़ुबार जुनून का कुछ यादें उलझी सी दो उँगलियों के दरमियान काले चश्मे पे दिखती जाने कितनी रंगीनियाँ बेमतलब सी बेवफाई हर पल उड़ती जाती छल्लों से बंधी हुई कुछContinue reading

Bunkar Ka Khwaab | Mid Night Diary | Musafir Tanzeem | #UnlockTheEmotion
Poetry

बुनकर का ख़्वाब | मुसाफिर तन्ज़ीम | #अनलॉकदइमोशन

इन सीलन भरी चार दीवारों के अन्दर एक सपना सो रहा है। वो सपना जिसमें ये दीवारें नहीं हैं एक हरा भरा मैदान है। जिसमें से एक नदी की छोटी से धारा निकल रही हैContinue reading

Ghazal

रिहा हो जाएं | अनुभव कुश | #अनलॉकदइमोशन

इस दफा तुझपे मुश्किल बस इतनी आए, एक ईद का चांद हो और धुंध समां हो जाए। तुम ग़ज़ल रचो मुझसे तामीर हो कविता, जब तुक मिला बैठे तो खुदा रज़ा हो जाए। उतार तोContinue reading

Poetry

वो ख़्वाब में मेरे जीती है मैं जिस लड़की पे मरता हूँ | स्वतंत्र कुमार सिंह | #अनलॉकदइमोशन

वो मुझको सोचा करती है मैं उसको सोचा करता हूँ वो ख़्वाब में मेरे जीती है मैं जिस लड़की पे मरता हूँ जब भीगे बालों में छत पर वो ज़ुल्फ़ सँवारा करती है मैं होशContinue reading

Udaan | Mid Night Diary | Bhavna Tripathi | #UnlockTheEmotion
Poetry

उड़ान | भावना त्रिपाठी | #अनलॉकदइमोशन

हसरत किसकी नहीं होती आसमाँ में पर फैलाने की, उस चाँद को अपनी मुट्ठी में समाने की। उड़ो,पर इतना भी ऊँचे मत जाओ अर्श पर, कि फिर वापस लौट कर आ ही ना पाओ फ़र्शContinue reading

Poetry

कठोर हृदय | अमिता गौतम | #अनलॉकदइमोशन

  कठोर हृदय कर, निकल पड़ा कुछ करने को, इस बुराई को कम करने, दुनिया को बदलने को, खुद को कष्ट दिया, यातनाएं दी, उस पगली को भी बहुत सी संभावनाएं दी, अब खड़ा हूँ,नहींContinue reading

Jab Kaha Tha | Mid Night Diary | Deepti Pathak | #UnlockTheEmotion
Poetry

जब कहा था | दीप्ति पाठक | #अनलॉकदइमोशन

वो जब कहा था तुमने कि वक़्त के साथ हर किरदार बदलेगा, मैं भी बदलूंगा ,कुछ तुम भी बदल जाना, पर क्यों नही बताया था तुमने के किरदार के साथ मेरा हकदार भी बदलेगा, तुमContinue reading