Tag: Arvind Saxena

Main Kaisi Lagti Hun | Mid Night Diary | Arvind Saxena | #UnlockTheEmotion
Poetry

मैं कैसी लगती हूँ | अरविन्द सक्सेना | #अनलॉकदइमोशन

नए साल पर उन्होंने हमसे पूछा , ‘मैं कैसी लगती हूँ’ हमने कहा, ‘पौधों में नयी कली सी, गेहूँ की सुनहरी बाली सी, किसानो की जीत जैसी लोहरी के गीत जैसी, इस गुलाबी जाड़े मेंContinue reading

Poetry

किसकी नज़र लग गयी | अरविन्द सक्सेना

जाने किसकी हमें नज़र लग गयी बद्दुआ किसकी आज असर कर गयी छोटी छोटी सी बात गहरी होती गयी होंठ सिलते गए आँखें रोती रहीं मांगते भी तो क्या जवाब मांगते खुद हमारी ही शायदContinue reading