Raavan | Mid Night Diary | Musafir Tanzeem

Raavan | Musafir Tanzeem

जब तुम हँसते हो
किसी सहकर्मी के स्तन
या नितम्ब के बारे में
छिछली सी बातें करके
तब मुझे लगता है
रावण अभी मरा नहीं है।

बैठ गया है वो हमारे दिमाग में
जब किसी लड़के के साथ
ऑफिस आने पर
तुम करते हो लंच टेबल पर
उसका चरित्र हनन
तब घिन आती है।

तुम्हारी उस खोखली मानसिकता पर
जब उसको मिलता है प्रमोशन
तब उसकी मर्यादा का हनन सरेआम करते हो
तब घिन आती है तुम्हारी
उस लड़की से पीछे रह जाने वाली बात पर
रावण अभी ज़िन्दा है।
हमारे खोखले समाज में…

 

-मुसाफ़िर तंजीम

 

Musafir Tanzeem
Musafir Tanzeem
Share on FacebookTweet about this on TwitterShare on Google+Share on TumblrShare on LinkedInPin on PinterestEmail this to someone

213total visits,1visits today

Leave a Reply