Raavan | Mid Night Diary | Musafir Tanzeem

रावण | मुसाफिर तंज़ीम

जब तुम हँसते हो
किसी सहकर्मी के स्तन
या नितम्ब के बारे में
छिछली सी बातें करके
तब मुझे लगता है
रावण अभी मरा नहीं है।

बैठ गया है वो हमारे दिमाग में
जब किसी लड़के के साथ
ऑफिस आने पर
तुम करते हो लंच टेबल पर
उसका चरित्र हनन
तब घिन आती है।

तुम्हारी उस खोखली मानसिकता पर
जब उसको मिलता है प्रमोशन
तब उसकी मर्यादा का हनन सरेआम करते हो
तब घिन आती है तुम्हारी
उस लड़की से पीछे रह जाने वाली बात पर
रावण अभी ज़िन्दा है।
हमारे खोखले समाज में…

 

-मुसाफ़िर तंजीम

 

Musafir Tanzeem
Musafir Tanzeem

455total visits,3visits today

Leave a Reply