कौन हूँ मैं | सारांश श्रीवास्तव

कोई पूछे तुमसे कौन हूँ मैं
तो कह देना कोई ख़ास नही
बस एक दोस्त है सीधा सादा सा
जो रहता हर वक़्त मेरे साथ है
और रहेगा हर वक़्त साथ मेरे

मैं
गलत रहूँ
या
रहूँ सही
एक उसका साथ हमेशा है

मैं
कहूं गलत
या
कहूं सहीं
वो
हर बार
मुझे ही सुनता है
और
सुनेगा भी
उसे
मैं पसंद हूँ
वो
खुश है मेरे साथ

मैं
उसकी पसंदीदा पसंद हूँ
उसकी मैं सबसे अच्छी दोस्त हूँ
वो बस
कुछ जताता नहीं
पर
वो
मुझसे प्यार बहुत करता है
शब्द समूह ढूँढता है
पर
हर बार
निः शब्द हो जाता है
जता नहीं पाता वो
उसका प्यार
फिर भी
लिखता है मेरे लिए
कविता
नज़्म
शेर
ग़ज़ल
वो एक
सीधा सादा दोस्त
मेरे लिए ही गाता है
हर गीत मेरे लिए
कोई
ऐसी तो खास बात नहीं उसमे
पर

मैं उसके लिए
बहुत ख़ास हूँ
बहुत ख़ास
कोई पूछे तुमसे कौन हूँ मैं
तो कह देना कोई ख़ास नहीं

मैं
उसकी ख़ुशी हूँ
उसकी
हर ख़ुशी की
मैं ही तो वजह हूँ
वो

मेरे साथ रहना चाहता है
मेरे गम लेना चाहता है
मेरे दर्द लेना चाहता है
मेरा हाथ थाम कर
मुझे बहुत करीब से
सुनना चाहता है
मेरा साथ चाहता है वो
वो बहुत कुछ चाहता है मुझसे
कह नहीं पाता कभी
डरता है वो
बहुत डरता है….

इज़हार में भी डरा
और
मुझे
जरा सा कुछ हो जाने पर भी डरा
और भी कई डर है उसके आसपास
वो डरता बहुत है

खैर…
कोई पूछे तुमसे कौन हूँ मैं
तो कह देना कोई ख़ास नहीं
एक दोस्त है सीधा सादा सा
जो रहता हर वक़्त साथ है
और रहेगा हर वक़्त साथ ही….

 

-सारांश

 

Saransh Shrivastava
Saransh Shrivastava

1472total visits,1visits today

2 thoughts on “कौन हूँ मैं | सारांश श्रीवास्तव

Leave a Reply