Jaruri Baat | Vishal Swaroop Thakur

कलाकार और सलाहकार में एक फासला होना चाहिए। मैं मानता हूँ कि कलाकार की जिंदगी में सलाहकार की कोई जरूरी आवश्यकता नहीं है। क्योकि कलाकार अपनी कला के माध्यम से बना है ना कि किसी सलाह से। यह जन्मजात गुण है कोई भी कला हो उसमें समय के साथ परिपक्वता आ ही जाती है।

आपकी अपनी जिंदगी है उसमे आपके अपने बनाये कुछ नियम होंगे और आप अपने लिए बेहतर ही सोचते होंगे। अब भला कोई अपना नुक्सान थोड़े ही चाहेगा। माना की हर कोई अम्बानी नहीं बन सकता। पता है क्यों क्योकि अम्बानी एक ही है और अम्बानी बनकर आप कर क्या लेंगे । अम्बानी जिसे बनना था वो बन गया।

आपको उससे ऊपर जाना है। अम्बानी या टाटा से ऊपर भी कुछ है और वो हो सकती है आप की सोच। अच्छा सोचो, अच्छा करो और बेहतर को अधिक बेहतर करने में जुट जाओ। लोग बोलेंगे, रोकेंगे, टोकेंगे ! उन्हें बोलने रोकने और टोकने में समय बर्बाद करने दो। आपको बढ़ना है कुछ करना है तो फ़ालतू की बातो को मत सुनो, किसी के रोकने टोकने ना बहको।

आपका समय है, सही है या गलत है उससे फर्क नहीं पड़ता। इतना याद रखो की समय आपका है और सिर्फ आपका है। किसी और के लिए बर्बाद मत करो। मैं अपना निजी अनुभव साझा कर रहा हूँ। जिंदगी के 20 वर्ष का अनुभव 60 वर्षो के समझदारों से कम हो सकता है लेकिन ये कडवे अनुभव हैं। अभी भी देखो मैं आपके बारे में सोच रहा हूँ।

क्योकि मेरे पास अपने लिए वक्त नहीं है। मैं दूसरों के भले में अपना भला सोचता आया हूँ लेकिन हमेशा नुक्सान की गहरी खायी में चला जाता हूँ जहाँ से निकलने भी कोई नहीं आता। मैं अपने रास्तो की खोज में खुद निकला हूँ इसलिए समझदारों और सलाहकारों से दूर रहना चाहता हूँ। कुछ बाते हैं कुछ नियम हैं कुछ है जो कर जाना है उस पार जाने से पहले।

उसमे भी खुद से ज्यादा दूसरों का भला होना है मेरा नहीं। मुझे तो आप उस पार जाते ही या उसके कुछ वर्ष बाद भूल जाओगे लेकिन मेरा 20 वर्षो का अनुभव कहता है कि जब भी अच्छा सोचोगे,करोगे, या कुछ हासिल कर जाओगे तो शायद याद जाऊ।

जिस तरह मैं प्रेरित कर रहा हूँ आप भी आगे करते रहोगे तो याद किये जाओगे वर्ना रह जाओगे एक पत्ते की तरह जो आज पेड़ पर है कल नहीं था और शायद कल न हो।

 

-विशाल स्वरुप ठाकुर

 

Vishal Swaroop Thakur
Vishal Swaroop Thakur
Share on FacebookTweet about this on TwitterShare on Google+Share on TumblrShare on LinkedInPin on PinterestEmail this to someone

472total visits,2visits today

3 thoughts on “Jaruri Baat | Vishal Swaroop Thakur

  1. It’s really very motivating…..अब भूलना थोड़ा मुश्किल ही रहेगा आपको आपके इन शब्दों को।।।।,tq everyone need these kind of words…

Leave a Reply