Ibadat-e-ishq | Akanki Sharma | Writer Saahiba

इबादत-ए-इश्क़ | एकांकी शर्मा | राइटर साहिबा

बरकत हुसैन के इश्क़ में दीवानी हुई जाती थी। दोनों मोहब्बत में इतने मशगूल थे कि उनके लिए इश्क़ का मतलब ख़ुदा की इबादत करना हो गया था। जब सारा ज़माना नफ़रत की गिरफ़्त में था, तब उनके दिलों में मोहब्बत पनप रही थी।

फ़सादों में दिन बर्बाद हो रहे थे इसलिए ख़ुदा उन्हें नफ़रत में उलझी कायनात से दूर अपने क़रीब जन्नत में ले आया था।

दोनों को हिन्दुस्तान में मोहब्बत हुई थी।

उनकी कब्रें आज पकिस्तान में महफूज़ हैं।

-राइटर साहिबा

Ibadat-e-ishq | Akanki Sharma | Writer Saahiba
Akanki Sharma (Writer Saahiba)

1736total visits,3visits today

1 thought on “इबादत-ए-इश्क़ | एकांकी शर्मा | राइटर साहिबा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: