गुरुदेव नमामि | श्रीधर नाथ गाँधी | टीचर’स डे स्पेशल

है सभ्य समाज निर्माता ,
ज्ञान के तुम हो दाता।
हमे आशीष अपना देदो,
जग मे ज्ञान जगाने वाला ।।

हम सब तो थे अज्ञानी,
तुमने ही मार्ग दिखाया ।
मेरे जीवन को सार्थक कर,
मुझे सच्चा मनुष्य बनाया ।।

तुमने जाना है हमको ,
गुण अवगुण तुम पहचानो ।
मेरे स्वभाव को निर्मल कर ,
मेरे चरित्र को चमकाया ।।

जब आई हममे निराशा ,
तुमने ही दी थी आशा ।
तुम हो आशा के सागर ,
तेरा धैर्य धरती समाना ।।

अर्जुन को धनुर्धर बनाया,
नरेंद्र ने वेदांत फेलाया ।
जितनी भी विभूतिया हुए ,
उनमे है योगदान तुम्हारा ।।

गोविन्द ने भी है माना ,
तुम हो उससे भी महाना ।
मुझ पर भी कृपा करदो,
मे भी हु शिष्य तुम्हारा ।।

तेरे उपकारों का ऋण मे,
कभी नही चुका सकता ।
मुझमे नही सामर्थ्य इतना,
तेरी महिमा है अनंता ।।

हम नतमस्तक होकर के ,
आभार है करते प्रभु का ।
है धन्यभाग्य हमारा ,
जो गुरुवर हमने ऐसा पाया ।।

 

-श्रीधर नाथ गांधी

 

Shridhar Nath Gandhi
Shridhar Nath Gandhi

650total visits,1visits today

6 thoughts on “गुरुदेव नमामि | श्रीधर नाथ गाँधी | टीचर’स डे स्पेशल

Leave a Reply