Dekho | Mid Night Diary | Divyanshu Kashyap TEJAS | #UnlockTheEmotion

देखो | दिव्यांशू कश्यप ‘तेजस’ | #अनलॉकदइमोशन

अभी तो हुई हैं सिर्फ आँखों से पहचान देखो
औ’ उतर गए हो तुम साँसों में बनके जान देखो।।

एक रोज जो न पूंछा हाल-ए-दिल हमने उनका
हो गए हैं इतने में ही वो कितना परेशान देखो।।

नसीहत सबको देते हो ख़ुदा के खौफ़ की ऐ वाइज़
झाँक कर तुम भी कभी अपना गरेबान देखो।।

होठो में रहे वो गुलरुख लाली सदा शबाब सी
तो खा रहे है वो कत्थे में मिला के पान देखो।।

जाने क्या अमावास लग गई मेरे सुहाने चाँद को,
सूना हो गया हैं मेरी ज़िंदगी का ये आसमान देखो।।

कभी गूँजी थी किलकारियां इसके आँगन में
हो गया है जर्जर अब तो ये भी मकान देखो।।

 

-दिव्यांशू कश्यप ‘तेजस’

 

Divyanshu Kashyap TEJAS
Divyanshu Kashyap TEJAS

271total visits,1visits today

One thought on “देखो | दिव्यांशू कश्यप ‘तेजस’ | #अनलॉकदइमोशन

Leave a Reply