Category: #UnmuktIndia

Ek Kagaj | Mid Night Diary | Avnish Kumar | #UnmuktIndia
#OneGoOneImpact, #UnmuktIndia

एक कागज | अवनीश कुमार | #उन्मुक्तइंडिया

“कागज़ दिखाओ गाड़ी के” ऐसा बोल कर किसी चौराहे पर खड़ा पुलिस वाला आते जाते लोगो से चाय पानी का जुगाड़ कर लेता है। मै किसी नेता की तरह कागज़ की इस दशा पर बातContinue reading

Bachpan Jee Liya Karo | Manjari Soni | Happy Children's Day
#UnmuktIndia, Poetry

बचपन जी लिया करो | मंजरी सोनी | हैप्पी चिल्ड्रेन’स डे

वो जो बीत गया है बचपन तुम उसे बुला लिया करो, जहाँ कहीं मौका मिले तुम इसे जी लिया करो।। कभी यूँही दरवाज़े के पीछे छुपकर अपने दोस्तों को भौं कर दिया करो दफ़्तर में हींContinue reading

Ek Cup Chai | Mid Night Diary | Deepti Pathak | #UnmuktIndia
#OneGoOneImpact, #UnmuktIndia, Short Stories

एक कप चाय | दीप्ति पाठक | #उन्मुक्तइंडिया

हर शाम office के बाद सामने की चाय की थड़ी पर बैठ कर चाय पीने की जैसे कोई लत सी लग गयी थी… मेरे हर दिन का हिस्सा सा हो चला था ये हर शामContinue reading

Ek Bhookha | Mid Night Diary | Avnish Kumar | #UnmuktIndia | #17000Km | Ashish Sharma
#OneGoOneImpact, #UnmuktIndia, Short Stories

एक भूखा | अवनीश कुमार | #उन्मुक्तइंडिया

एक शाम जब थोड़ी भूख महसूस हुई तो, कमरे से निकल बाहर गली में खुली दुकान पर जा पहुँचा। ये वो दुकान थी, जहाँ से उठती खाने की खुश्बू ,किसी के भी मुह में पानीContinue reading