Day: January 19, 2018

Poetry

कौन हूँ मैं | सारांश श्रीवास्तव

कोई पूछे तुमसे कौन हूँ मैं तो कह देना कोई ख़ास नही बस एक दोस्त है सीधा सादा सा जो रहता हर वक़्त मेरे साथ है और रहेगा हर वक़्त साथ मेरे मैं गलत रहूँContinue reading

Ek Kahani | Mid Night Diary | Shreya Levy
Poetry

एक कहानी | श्रेया लेवी

आओ सुनाऊँ तुम्हें एक कहानी, एक प्रथा थी बहुत पुरानी… तीन लफ़्ज़ थे कहने ज़ुबानी, फिर हो जाती थी, ख़त्म कहानी।   ना कोई राजा, ना कोई रानी क्या थी ये मनमानी? तलाक़-ए-बिद्दत से मामलाContinue reading