Day: September 11, 2017

Thoda Aur Ruk Jaate | Mid Night Diary | Divyanshu Kashyap TEJAS
Love, Poetry

थोड़ा और रुक जाते | दिव्यांशू कश्यप ‘तेजस’

तू रोज कहती थी कि मेरा हक है तुझपे, तू कभी ये जता देती तो रुक जाते। ख़त तो तूने भी बहुत लिखे मुझको, जुबॉ से कभी ये बता देती तो रुक जाते। सजती थीContinue reading