Day: September 1, 2017

Jaruri Tha | Mid Night Diary | Manjari Soni
Love, Poetry

जरुरी था | मंजरी सोनी

अब जाना मैंने के जाना उसका ज़रूरी था। दर्दनाक हीं सही लेकिन उस हादसे का होना ज़रूरी था।।   हमारे सवरने के लिये उसका हमें तोड़ना ज़रूरी था। ख़ुद का हाथ थामने के लिये उसकाContinue reading