Day: July 24, 2017

Love, Short Stories

बेजान रिश्ता | अमृत

“तुम्हे देख कर यूँ लगता है..जैसे वक़्त में सफर कर रही हूँ..सादिया फिर से लौट आई हैं..” “वक़्त..ये वक़्त का ही तो सफर है जो आज हम यूँ..अजनबियों की तरह मिले है..” “तुम्हारी आँखें अबContinue reading