Day: January 4, 2017

Benaam Khat, Love, Micro Tales, Short Stories

वक़्त | अमन सिंह | #बेनामख़त

आखिर वक़्त का यह लम्हां भी गुजर ही गया, वह लम्हां जिसमे हम साथ हो सकते थे। वक़्त के उस कतरे में हाथों में हाथ हो सकते थे, लेकिन… यह तो अब रोज की बातContinue reading